Uncategorized

ढाई घंटे एसपी की आस में बैठे रहे ग्रामीण

  • October 6, 2022
  • 1 min read
  • 84 Views
[addtoany]
ढाई घंटे एसपी की आस में बैठे रहे ग्रामीण

हमले में घायल सरपंच पति इंदौर रेफर, आरोपियों पर कार्रवाई की मांग, घटना के बाद से ग्रामीणों में है आक्रोश

खंडवा. पंधाना थाना क्षेत्र में के बलरामपुर कुमठी में सरपंच पति पर चाकू से जानलेवा हमले के बाद माहौल शांत नहीं है। घायल को जिला असपताल में इलाज के बाद इंदौर रेफर कर दिया है। इस घटना से आक्रोशित आधा सैकड़ा ग्रामीण बुधवार की दोपहर यहां पुलिस अधीक्षक से मिलने उनके दफ्तर पहुंच गए। लेकिन करीब ढाई घंटे इंतजार के बाद भी उनकी मुलाकात एसपी से नहीं हो सकी। त्योहार के दिन घर छोड़ एसपी से फरियाद की आस में आस ग्रामीण निराश होकर अपना आवेदन देकर चले गए।

मंगलवार की रात करीब साढ़े 8 बजे बलरामपुर कुमठी गांव में सरपंच किरण सोने के पति गोटिया उर्फ रामचंद्र सोने पर तब चाकू से हमला हुआ जब वह गांव के लोगों के साथ खड़े थे। आरोपी करण पिता शंकर ने चाकू से हमला किया और फरार हो गया। घटना के बाद पीडि़त को अस्पताल भेजते हुए ग्रामीणों ने हाइवे जाम कर दिया था।

डीएसपी अनिल चौहान ने एसपी ऑफिस में बैठे ग्रामीणों से फोनपर बात की और कार्रवाई का भरोसा दिलाते हुए मौजूद कर्मचारियों को आवेदन देने को कहा। दोपहर ढाई बजे के बाद ग्रामीणों ने आवेदन दिया और फिर घर को लौटे। आवेदन में बताया गया कि अवैध शराब की दुकान हटवाने पर आरोपी ने पूर्व सरपचं रानी पटेल के पति राजेश, रत्नेश गूजर, पुरुषोत्तम उर्फ छोटू पटेल, सखाराम गूजर समेत अन्य के उकसावे में वारदात की है।

एसपी ऑफिस पहुंचे ग्रामीणों में महिलाओं की संख्या ज्यादा रही। इनका कहना था कि बोरगांव चौकी और थाना पंधाना पुलिस सुनवाई नहीं करती है। पूर्व में भी बोरगांव में शिकायत की गई, लेकिन कार्रवाई नहीं होने पर आरोपियों को बढ़ावा मिला है। महिलाओं ने कहा कि दो दिन में कार्रवाई नहीं हुई तो वह फिर से एसपी के पास आएंगी।

प्रधानमंत्री के आगमन की तैयारी हुई शुरू, इंदौर नगर निगम से भी दर्जनों सफाई वाहन लगे कार्य में, 11 अक्टूबर को होना है उद्धघाटन

Read More…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *