Culture

सर्वपितृ अमावस्या पर इन 6 चीजों के दान से प्रसन्न होंगे पितर देव, मिलेगा इस बड़े कष्ट से छुटकारा

  • September 21, 2022
  • 1 min read
  • 37 Views
[addtoany]
सर्वपितृ अमावस्या पर इन 6 चीजों के दान से प्रसन्न होंगे पितर देव, मिलेगा इस बड़े कष्ट से छुटकारा

सर्वपितृ अमावस्या पर दान करने से पितर देव प्रसन्न होते हैं. आइए जानते हैं कि इस दिन किन 6 चीजों का दान करना शुभ होता है.

Sarva Pitru Amavasya 2022 Daan: सर्वपितृ अमावस्या पर पितरों के निमित्त श्राद्ध करने का विशेष महत्व है. दरअसल मान्यता है कि इस दिन पितरगण स्वर्ग लोक से धरती पर पधारते हैं. ऐसे इस दिन किया गया पार्वण, तर्पण, पिंडदान और श्रद्ध अत्यंत फलदायी होता है.

आपको बता दें कि पितृ पक्ष

की शुरुआत 10 सितंबर से हुई थी, जिसका समापन 25 सितंबर को सर्वपितृ अमावस्या के दिन होगा. इस बार सर्वपितृ अमावस्या 25 सितंबर को पड़ रही है. ऐसे में जानते हैं कि इस दिन किन 6 चीजों का दान करने से पितर देव प्रसन्न होंगे और उनका आशीर्वाद मिलेगा. 

1. गुड़- शास्त्रों के मुताबिक सर्वपितृ अमावस्या के दिन गुड़ का दान करना शुभ होता है. मान्यता है कि इस दिन गुड़ और उससे बने पकवान का दान करने के पितरगण संतुष्ट होकर अपने संततियों को आशीर्वाद प्रदान करते है. जिसके घर-परिवार में उन्नति और बरकत होती रहती है. 

2. नमक- सर्वपितृ अमवस्या के दिन नमक का दान करना शुभ और कल्याणकारी होता है. दरअसल इस संबंध में मान्यता है कि इस दिन नमक का दिन किए बिना कोई दान पूर्ण नहीं माना जाता है. ऐसे में इस दिन नमक का दान जरूर करना चाहिए.

3. घी- शास्त्रीय मान्यताओं के मुताबिक सर्विपितृ अमावस्या पर गाय के घी का दान करना शुभ होता है. कहा जाता है कि इस दिन गाय के शुद्ध घी का दान करने से पितर देव खुश होते हैं. जिससे पितृ दोष जैसे बड़े कष्टों से भी छुटकारा मिल जाता है. ऐसे में इस दिन अपने सामर्थ्य के अनुसार नमक का दान जरूर करना चाहिए.

4. चांदी का दान- हिंदू धर्म शास्त्रों के मुताबिक सर्वपितृ अमावस्या के दिन चांदी का दान करना अत्यंत शुभ होता है. ज्योतिष शाास्त्र की मान्यता के अनुसार चांदी का संबंध चंद्रमा से होता है. इसके अलावा यह मन का भी कारक होता है. ऐसे में इस दिन चांदी का दान करने से पितर देव तो संतुष्ट होते ही हैं, इसके साथ ही मानसिक विकार भी दूर होते हैं. 

5. काले तिल- पितृ पक्ष में तिल का खास महत्व होता है. इस दौरान काले तिल का इस्तेमाल, तर्पण, पिंडदान और पार्वण इत्यादि कार्यों में किया जाता है. ऐसे में सर्विपितृ अमावस्या के दिन काले तिल का दान करना शुभ माना गया है. कहा जाता है कि इस दिन काले तिल का दान करने से सभी प्रकार के संकट दूर हो जाते हैं. साथ ही पितरों का विशेष आशीर्वाद प्राप्त होता है.   

6. अन्न- पितृ पक्ष में सर्वपितृ अमावस्या के दिन अन्न का दान करना शुभ माना गया है. मान्यता है कि इस दिन अन्न और अनाज का दान करने से पितर देव अत्यंत प्रसन्न होते हैं. उनकी आत्मा तृप्त हो जाती है. जिसके शुभ प्रभाव का लाभ वंशजों को मिलता है. इसके साथ ही पितर दोष भी शांत होता है.

अशोक गहलोत ने विधायकों से कहा “दूर नहीं होगा”, सचिन पायलट के लिए संकेत: 10 अंक

Read More…

Leave a Reply

Your email address will not be published.