Health

मधुमेह रोगियों के लिए कितना दूध का सेवन पर्याप्त है

  • June 21, 2022
  • 1 min read
  • 74 Views
[addtoany]
मधुमेह रोगियों के लिए कितना दूध का सेवन पर्याप्त है

दूध में मौजूद विभिन्न पोषक तत्वों के कारण संतुलित आहार का एक अनिवार्य हिस्सा है। दूध से कैल्शियम की कमी को आसानी से दूर किया जा सकता है। लेकिन क्या मधुमेह के रोगियों के लिए दूध पीना सुरक्षित है?

वेबएमडी पर प्रकाशित एक स्वास्थ्य लेख के अनुसार, “दूध में कार्बोहाइड्रेट भी होते हैं जो शर्करा के स्तर को बढ़ा सकते हैं।” इसलिए, खपत से पहले डेयरी उत्पादों की संख्या पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है क्योंकि इन सभी में कार्बोहाइड्रेट होते हैं।

मधुमेह दो प्रकार के होते हैं और रोगी से अपेक्षा की जाती है कि वह उसी के अनुसार भोजन करे। उदाहरण के लिए टाइप 1 मधुमेह में, अग्न्याशय बहुत कम या बिल्कुल भी इंसुलिन नहीं बनाता है। इसे ऑटोइम्यून डिसऑर्डर भी कहा जाता है, जो बचपन में शुरू हो जाता है। इसे नियंत्रित किया जा सकता है लेकिन ठीक नहीं किया जा सकता। भोजन के बाद शरीर में कार्बोहाइड्रेट के प्रभाव को कम करने के लिए इंसुलिन के इंजेक्शन लगाए जाते हैं।

टाइप 2 मधुमेह में अग्न्याशय इंसुलिन नहीं बना पाता है जिसके कारण शरीर मोटा हो जाता है। मधुमेह का इतिहास होने से जोखिम अपने आप बढ़ जाता है।

दुग्ध उत्पाद वसा और कार्बोहाइड्रेट में उच्च होते हैं, जो मधुमेह के लोगों के लिए जोखिम कारक हो सकते हैं। इससे हृदय रोगों की संभावना बढ़ जाती है। वसा के सेवन, विशेष रूप से अस्वास्थ्यकर वसा की मात्रा को नियंत्रित करके ही जोखिम की निगरानी की जा सकती है। दूध में मौजूद कार्बोहाइड्रेट टूटने के बाद चीनी में बदल जाते हैं। ऐसे में खासतौर पर अधिक मात्रा में दूध के सेवन से ब्लड शुगर बढ़ सकता है।

ऐसे में मधुमेह के रोगियों को अपने वसा के सेवन पर नजर रखनी चाहिए या वे वसा रहित दूध का सेवन कर सकते हैं। बाजार में मौजूद अन्य विकल्प बादाम का दूध, नारियल का दूध, बकरी का दूध, अखरोट और जई हैं। किसी भी दूध को चुनने से पहले दूध में मौजूद चीनी की मात्रा को जांचना जरूरी है।

(डिस्क्लेमर: इस लेख में साझा किए गए स्वास्थ्य संबंधी सुझाव सामान्य अभ्यासों और सामान्य ज्ञान पर आधारित हैं। पाठकों को सलाह दी जाती है कि घर पर इनका पालन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लें।)

सभी नवीनतम समाचार, ब्रेकिंग न्यूज पढ़ें, शीर्ष वीडियो देखें और लाइव टीवी यहां देखें।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस: मैसूर से मेगा अभ्यास का नेतृत्व करेंगे मोदी; 25 करोड़ लोग विश्व स्तर पर आयोजनों में शामिल हो सकते हैं | शीर्ष बिंदु

Read More..

Leave a Reply

Your email address will not be published.