Uncategorized

कछुआ चाल: बीते साल से 1.5 करोड़ कम जमा हुए इनकम टैक्स रिटर्न, क्या सुस्त रफ्तार के चलते फिर बढ़ेगी लास्ट डेट?

  • February 2, 2022
  • 1 min read
  • 195 Views
[addtoany]
कछुआ चाल: बीते साल से 1.5 करोड़ कम जमा हुए इनकम टैक्स रिटर्न, क्या सुस्त रफ्तार के चलते फिर बढ़ेगी लास्ट डेट?

आयकर विभाग ने बताया कि 26 दिसंबर तक जमा हुए आयकर रिटर्न में 2.44 करोड़ रिटर्न आईटीआर-1 फॉर्म (सहज) हैं, जबकि 1.12 करोड़ रिटर्न आईटीआर-4 फॉर्म (सुगम) हैं।

HIGHLIGHTS

  • 26 दिसंबर तक वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 4.51 लाख इनकम टैक्स रिटर्न जमा
  • इतनी भारी संख्या के बावजूद पिछले साल से यह संख्या करीब डेढ़ लाख कम है
  • 26 दिसंबर तक जमा हुए आयकर रिटर्न में 2.44 करोड़ रिटर्न आईटीआर-1 फॉर्म हैं

नयी दिल्ली। देश में 26 दिसंबर तक वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 4.51 लाख इनकम टैक्स रिटर्न जमा हो चुके हैं। लेकिन इतनी भारी संख्या के बावजूद पिछले साल से यह संख्या करीब डेढ़ लाख कम है। आज के दिन को जोड़ भी लें तो 4 दिनों में यह संख्या पार होनी मुश्किल लग रही है। ऐसे में जानकार टैक्स रिटर्न की तारीख आगे बढ़ने के कयास भी लगाने लगे हैं। 

आयकर विभाग ने बताया कि 26 दिसंबर तक जमा हुए आयकर रिटर्न में 2.44 करोड़ रिटर्न आईटीआर-1 फॉर्म (सहज) हैं, जबकि 1.12 करोड़ रिटर्न आईटीआर-4 फॉर्म (सुगम) हैं। सहज और सुगम फॉर्म छोटे एवं मझोले करदाताओं के रिटर्न के लिए इस्तेमाल होते हैं। सहज फॉर्म का इस्तेमाल 50 लाख रुपये तक की सालाना आय वाले व्यक्तिगत करदाता कर सकते हैं। वेतन और आवासीय संपत्ति से कमाई करने वाले करदाताओं को सहज फॉर्म भरना होता है। वहीं सुगम फॉर्म के जरिये आयकर रिटर्न व्यक्तिगत करदाता, हिंदू अविभाजित परिवार और 50 लाख रुपये तक की कारोबारी आय वाले जमा कर सकते हैं। 

पिछले साल करीब 6 लाख लोगों ने भरा रिटर्न 

वित्त वर्ष 2019-20 के लिए कुल 5.95 करोड़ रिटर्न जमा किए गए थे। वित्त वर्ष 2020-21 के लिए आयकर रिटर्न जमा करने की अंतिम तारीख पहले 31 जुलाई थी, लेकिन बाद में इसे बढ़ाकर 31 दिसंबर कर दिया गया। रिटर्न जमा करने की अंतिम तारीख नजदीक आने के साथ ही 26 दिसंबर तक कुल 4,51,95,418 रिटर्न जमा किए जा चुके हैं। इनमें 26 दिसंबर को भरे गए 8,77,721 रिटर्न भी शामिल हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *