Media

इंदौर मेें लूट की वारदात का नया तरीका, एक्सीडेंट का बहाना बनाकर पहले रोका, फिर डेढ़ लाख लूटे

  • November 17, 2022
  • 1 min read
  • 34 Views
[addtoany]
इंदौर मेें लूट की वारदात का नया तरीका, एक्सीडेंट का बहाना बनाकर पहले रोका, फिर डेढ़ लाख लूटे

थैली में नकद डेढ़ लाख रुपये रखे थे तो व्यापारी कलेक्शन कर लाए थे। हड़बड़ाहट में व्यापारी भी बदमाशों की गाड़ी का नंबर नोट नहीं कर पाए। लसुडि़या पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

इंदौर में आजकल एक गैंग सक्रिय है जो एक्सीडेंट के बहाने से रोकती है और लूट को अंजाम देती है। बदमाश इसके लिए सूनसान इलाकों को चुनते है। एक घटना लसुडिया क्षेत्र में हो गई। यहां एक तेल व्यापारी से दो लाख रुपये लूट कर बदमाश भाग गए।

इस गिरोह में लूट के लिए चार से ज्यादा लोग आते है। तेल व्यापारी कमलेश शर्मा को रोज लाखों का व्यापार के सिलसिले में नकदी दुकानों से लेते जाते है। सिक्का स्कूल के पास उन्हें दो युवकों ने रोका और कहा कि तुम्हारे स्कूटर से एक्सीडेंट हो गया और तुम रुके भी नहीं।

कमलेश ने एक्सीडेंट होने ने इनकार किया तो बदमाशों के दो साथी और आ गए और कमलेश को पिटने लगे। सड़क से गुजर रहे लोगों ने समझा कि आपसी विवाद है। इस बीच एक बदमाश ने व्यापारी से चाबी छिनी और डिक्की में रखी थैली निकाल ली और भाग गए। थैली में नकद डेढ़ लाख रुपये रखे थे तो व्यापारी कलेक्शन कर लाए थे। हड़बड़ाहट में व्यापारी भी बदमाशों की गाड़ी का नंबर नोट नहीं कर पाए। लसुडि़या पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। क्षेत्र के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे है।

पुलिस को आशंका है कि रैकी कर इस घटना को अंजाम दिया गया है। पहले भी इस तरह की  दो घटनाएं हो चुकी है और किसी बाहरी गिरोह के शहर में सक्रिय होने की आशंका से भी पुलिस इनकार नहीं कर रही है। उधर ठगी की एक घटना बाणगंगा क्षेत्र में हो गई। बिजली बिल बकाया होने का बहाना बनाकर ठग ने एक व्यक्ति से 35 हजार रुपये ठग लिए। प्रिमियम पार्क निवासी जितेंद्र तोमर को ठग ने फोन कियाा और  कहा कि बिजली बिल बकाया होने के कारण कनेक्शन कट जाएगी। बिल भरने में मदद का हवाला देकर ठग ने जितेंद्र से एनी डेस्क एप डाउनलोड करवाया और  अकाउंट से 35 हजार रुपये निकाल लिए।

लिव-इन में रहने वाली युवती ने प्रेमी पर चाकू से किया हमला, बैट से भी जमकर पीटा

Read More…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *