Culture

खजराना गणेश मंदिर में प्रसाद की दुकान बिकी 1.72 करोड़ में, दर 2.68 लाख रुपये प्रति वर्गफीट

  • October 26, 2022
  • 1 min read
  • 40 Views
[addtoany]
खजराना गणेश मंदिर में प्रसाद की दुकान बिकी 1.72 करोड़ में, दर 2.68 लाख रुपये प्रति वर्गफीट

आस्था के केंद्र मध्यप्रदेश के इंदौर स्थित खजराना गणेश मंदिर परिसर में एक दुकान निर्धारित से छह गुना महंगे दामों पर बिकी है। इसकी कीमत इंदौर विकास प्राधिकरण ने 30 लाख रुपये तय की थी, लेकिन जब नीलामी की प्रक्रिया शुरू हुई तो सबसे ज्यादा दाम खजराना क्षेत्र के देंवेद्र राठौर ने इस दुकान के लगाए। उन्होंने 64 वर्गफीट की इस दुकान को 1.72 करोड़ रुपये में खरीदने की तैयारी दिखाई।

खजराना मंदिर परिसर का विकास नगर निगम और इंदौर विकास प्राधिकरण ने किया है। पहले परिसर में बाई तरफ प्रसाद, हार-फूल की दुकानें लगती थी। बाद में मार्केट मंदिर के प्रवेश द्वार के पास ही बना दिया गया। इस मार्केट में दुकान क्रमांक 1-ए को बेचा जाना था। टेंडर में छह लोगों ने इस दुकान को लेने में रुचि दिखाई।

40 लाख से लेकर 1.61 करोड़ रुपये तक में लोग इसे खरीदने को तैयार थे। देंवेद्र राठौर ने सबसे अधिक 1.72 करोड़ रुपये की राशि भरी थी। यह दुकान उन्हें आवंटित की जा रही है। खजराना मंदिर समिति प्रबंधन के घनश्याम शुक्ला ने बताया कि दुकान 30 साल की लीज पर दी गई है। परिसर में सबसे ज्यादा कीमत में यह दुकान बिकी है।

दो तरफ से खुली है दुकान
खजराना परिसर की दुकान क्रमांक- 1-ए का महंगा बिकना बताता है कि खजराना मंदिर की दुकान कितना कमा सकती है। यह मंदिर परिसर की पहली दुकान है और दो तरफ से खुली है। इस वजह से उम्मीद की जा रही है कि इस दुकान से सबसे अधिक सामग्री की बिक्री होगी। वैसे, नियम बताते हैं कि इस दुकान से सिर्फ पूजन सामग्री, हार-फूल और प्रसाद ही बिक सकेंगे। 

दो तरफ से खुली है दुकान
खजराना परिसर की दुकान क्रमांक- 1-ए का महंगा बिकना बताता है कि खजराना मंदिर की दुकान कितना कमा सकती है। यह मंदिर परिसर की पहली दुकान है और दो तरफ से खुली है। इस वजह से उम्मीद की जा रही है कि इस दुकान से सबसे अधिक सामग्री की बिक्री होगी। वैसे, नियम बताते हैं कि इस दुकान से सिर्फ पूजन सामग्री, हार-फूल और प्रसाद ही बिक सकेंगे। 

खजराना मंदिर के पुजारी अशोक भट्ट ने बताया कि मंदिर में आज अन्नकूट महोत्सव मनाया जा रहा है। भक्त चांदी की प्लेट में 56 भोग लगाएंगे। पहले प्लास्टिक की प्लेट में भोग लगाया जाता था, लेकिन समिति ने अन्नकूट के लिए खास तौर पर चांदी की प्लेट तैयार कराई है।

‘बिग डे,’ भारतीय अमेरिकियों का कहना है कि ऋषि सुनाक ब्रिटिश पीएम बन जाता है

Read More…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *