Environment

ग्वालियर का माैसम हुआ सुहाना, वर्षा ने घाेली ठंडक, उमस भरी गर्मी से मिली राहत

  • September 15, 2022
  • 1 min read
  • 29 Views
[addtoany]
ग्वालियर का माैसम हुआ सुहाना, वर्षा ने घाेली ठंडक, उमस भरी गर्मी से मिली राहत

मानसून सीजन में पहली बार इस तरह के मौसम का अहसास हुआ। अधिकतम तापमान सामान्य से 6.3 डिसे कम रहा। तापमान सामान्य से काफी नीचे चला गया। दिन में एसी व कूलर की जरूरत नहीं पड़ी। पंखे की हवा में ठंडक का अहसास हुआ।

ग्वालियर, (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ग्वालियर चंबल संभाग के ऊपर बने कम दबाव के क्षेत्र की वजह से बुधवार को शहर में दिनभर रिमझिम व तेज वर्षा का दौर चला। इससे दिन व रात के तापमान में 3.8 डिग्री सेल्सियस का अंतर रहा। दिन व रात का मौसम एक जैसा रहा है। शहरवासी पिछले 13 दिन से उमस भरी गर्मी झेल रहे थे, उससे राहत मिल गई। मौसम में ठंडक रही। मौसम विभाग के अनुसार 15 सितंबर को भी हल्की से मध्यम वर्षा का दौर जारी रहेगा।

बंगाल की खाड़ी का कम दबाव का क्षेत्र बुंदेलखंड में वर्षा करते हुए बुधवार को ग्वालियर चंबल संभाग के ऊपर पहुंच गया। इस कारण दोनों संभाग के कुछ हिस्सों में भारी वर्षा भी दर्ज हुई है, लेकिन ग्वालियर में बीती रात से रिमझिम वर्षा का दौर जारी रहा। बादलों के चलते धूप नहीं निकली। रुक-रुककर तेज वर्षा भी हुई। वर्षा की गति धीमी थी, लेकिन रिमझिम वर्षा ने मौसम को सुहाना कर दिया।

अधिकतम तापमान में 3.7 डिसे की गिरावट दर्ज हुई। मानसून सीजन में पहली बार इस तरह के मौसम का अहसास हुआ। अधिकतम तापमान सामान्य से 6.3 डिसे कम रहा। तापमान सामान्य से काफी नीचे चला गया। दिन में एसी व कूलर की जरूरत नहीं पड़ी। पंखे की हवा में ठंडक का अहसास हुआ।

मानसून ट्रफ लाइन गुना-कोटा होते हुए गुजर रही है। जब सिस्टम पश्चिमी उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ेगा, जब मानसून ट्रफ लाइन भी उत्तर की ओर शिफ्ट होगी।

-पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इस कारण अरब सागर से भी नमी आ रही है। बंगाल की खाड़ी से भी नमी आ रही है। इस कारण वर्षा हो रही है।

-कम दबाव का क्षेत्र ग्वालियर के ऊपर है। इस वजह से अंचल के जिलों में अच्छी वर्षा हुई है। यूपी की ओर बढ़ने पर ग्वालियर में वर्षा बढ़ेगी।

दिल्ली में सबको नहीं मिलेगी बिजली सब्सिडी, 1 नवंबर से लागू होगा नया नियम, जानिए कैसे करें अप्लाई

Read More…

Leave a Reply

Your email address will not be published.