Culture

तीन दिनी नृसिंह जयंती महोत महोत महोत महोत की की होगी होगी होगी होगी होगी होगी होगी होगी

  • May 12, 2022
  • 1 min read
  • 243 Views
[addtoany]
तीन दिनी नृसिंह जयंती महोत महोत महोत महोत की की होगी होगी होगी होगी होगी होगी होगी होगी

इंदौर में 12 मई को ये हैं खास कार्यक्रम, पढ़कर बनाए अपने दिन का प्लान। इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर में कोरोना गाइडलाइन के अनुसार कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इस कड़ी में 12 मई को दिनभर शहर में विभिन्न संगठनों के कई कार्यक्रम होंगे।

इसमें मां नारायणी की शोभायात्रा निकाली जाएगी। इसके साथ ही नृसिंह जयंती महोत्सव की शुरुआत होगी। इस दौरान मास्क पहनने के साथ शारीरिक दूरी के नियम का पालनकर स्वयं भी सुरक्षित रहें और दूसरों को भी सुरक्षित रखें।

आजादी अमृत महोत्सव के अंतर्गत निश्शुल्क योग प्रशिक्षण कार्यक्रम गुरु हरकृष्ण साहिब चेरिटेबल हास्पिटल संत नगर में होगा। इसमें योग प्रशिक्षकों द्वारा योग के जरिए निरोगी रहने के उपाए बताए जाएंगे। प्रशिक्षण कार्यक्रम 15 मई तक होगा।

Today in Indore: तीन दिनी नृसिंह जयंती महोत्सव की होगी शुरुआत, निकलेगी शोभा यात्रा

श्वेतांबर जैन की दीक्षा महोत्सव में चार स्थानों पर सामायिक का आयोजन होगा। सुबह 8 बजे पीपली बाजार, रेसकोर्स और कालानी नगर उपाश्रय में समाजजन एक घंटे साधु वेश मे रहेगे। इसके बाद उनकी धर्मसभा होगी।

तीन दिनी नृसिंह जयंती महोत्सव नृसिंह मंदिर नृसिंह बाजार में वेद मंत्रों से पंचामृत अभिषेक होगा। इसके बाद अभिजीत मुहूर्त में भगवान का चित्र का स्थापन कर एकादशी मंडली द्वारा शाम 4 बजे से भजन कीर्तन और शाम को संध्या आरती होगी।

महोत्सव के दूसरे दिन 13 मई को नित्य पूजन आरती के बाद शाम 7 बजे हरी दर्शन होंगे। 14 मई को नृसिंह जयंती पर सुबह 5 बजे से भगवान ब्राह्मणों द्वारा पुरुष सूक्त व श्री सूक्त द्वारा अभिषेक किया जाएगा।

सुबह 6.30 बजे प्रभात फेरी में पवनपुत्र हनुमान व डाकन की सवारी निकाली जाएगी। दोपहर 11 बजे नृसिंह चरित्र का वाचन पं. बसंत खटोड़ द्वारा किया जायेगा। दोपहर 12 बजे उत्सव आरती होगी।

सेन युवा संगठन द्वारा मां नारायणी की शोभायात्रा नंदानगर साईं मंदिर से शाम 5 बजे निकाली जाएगी।विभिन्न मार्गों से होते हुए यात्रा का समापन क्लर्क कालोनी स्थि माता मंदिर पर होगी।सकल पंच अजमेरी ढूढाडी सेन समाज सुबह 9 बजे सेन बगीची पीलिया खाल बड़ा गणपति पर मां नारायणी माता मंदिर में पूजा अर्चना की जाएगी।

प्राचीन खजराना गणेश मंदिर में खजराना गणेश का श्रृंगार और आरती की जाएगी। इसमें गणेश भक्त प्रतिदिन की तरह श्रद्धा व उल्लास से शामिल होंगे। दर्शन का सिलसिला दिनभर कोरोना प्रोटोकाल के नियमों के पालन के साथ चलेगा।

नाम-जप परिक्रमा लक्ष्मी-वेंकटेश देवस्थान छत्रीबाग में निकलेगी। इसमे भक्त वेकेंट रमणा गोविंदा का जयघोष लगाते शामिल होंगे। परिक्रमा के बाद श्रृंगार दर्शन का सिलसिला दोपहर 12 बजे तक मंदिर के पट बंद होने तक चलेगा।

रहस्यमय सोने के रंग का रथ आंध्र के श्रीकाकुलम में राख को धोता है

Read More…

Leave a Reply

Your email address will not be published.