Politics

UP Politics: Mayawati ने मुस्लिम वोट के लिए चला बड़ा दांव, Akhilesh Yadav को दिया झटका

  • October 20, 2022
  • 1 min read
  • 39 Views
[addtoany]
UP Politics: Mayawati ने मुस्लिम वोट के लिए चला बड़ा दांव, Akhilesh Yadav को दिया झटका

Imran Masood: बसपा प्रमुख मायावती (Mayawati) ने मुस्लिम वोट बैंक को साधते हुए इमरान मसूद को पार्टी में शामिल किया है और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पार्टी का संयोजक बनाया है.Imran Masood joins BSP: बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती (BSP Supremo Mayawati) ने अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को बड़ा झटका दिया है

और हाल में समाजवादी पार्टी (SP) छोड़ने वाले इमरान मसूद (Imran Masood) को अपनी पार्टी में शामिल कर लिया है. इमरान मसूद को पश्चिमी उत्तर प्रदेश की सियासत में असरदार माना जाता है और मुस्लिम वोट बैंक के लिए मायावती का बड़ा दांव माना जा रहा है. बता दें कि इमरान मसूद इस साल के शुरू में हुए यूपी विधानसभा चुनाव से ऐन पहले कांग्रेस छोड़कर सपा में शामिल हुए थे.

मायावती ने इमरान मसूद को दी ये बड़ी जिम्मेदारी

बसपा (BSP) जॉइन करने के बाद पार्टी सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने इमरान मसूद (Imran Masood) को बड़ी जिम्मेदारी दी है और मसूद का पार्टी में स्वागत करते हुए उन्हें पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पार्टी का संयोजक बनाया है. मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश और खासकर पश्चिमी यूपी की राजनीति में इमरान मसूद एक जाना-पहचाना नाम है, जिन्होंने अपने करीबी सहयोगियों के साथ मुझसे मुलाकात की और वे समाजवादी पार्टी छोड़कर, अच्छी नीयत व पूरी दमदारी से काम करने के वादे के साथ, बसपा में शामिल हो गए, जिसका तहेदिल से स्वागत है.

मायावती ने आगे कहा, ‘पार्टी में काम करने के इनके (इमरान मसूद) जबर्दस्त जोश और उत्साह को देखकर आज ही उन्हें पश्चिमी यूपी बसपा का संयोजक बनाते हुए वहां पार्टी को हर स्तर पर मजबूत बनाने और खासकर अकलियत (अल्पसंख्यक) समाज को पार्टी से जोड़ने की भी विशेष जिम्मेदारी सौंपी गई है.’ मायावती ने आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव के बाद और स्थानीय निकाय चुनाव से पहले मसूद के बसपा जॉइन करने को यूपी की राजनीति के लिए शुभ संकेत बताया. उन्होंने कहा, ‘मुस्लिम समाज को भी यकीन है कि भाजपा की द्वेषपूर्ण और क्रूर राजनीति से मुक्ति के लिए सपा नहीं, बल्कि बसपा के ही जरूरी है.’

इमरान मसूद ने BSP को बताया बीजेपी का विकल्प

बसपा (BSP) में शामिल होने के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए इमरान मसूद (Imran Masood) ने कहा कि उत्तर प्रदेश में एक मजबूत विकल्प देने के लिए विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने सपा (SP) का दामन थामा था, लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद उम्मीद के मुताबिक नतीजे नहीं आए. उन्होंने आगे कहा, ‘मुझे समझ में आया कि बसपा कैडर आधारित पार्टी है और उसका अपना जनाधार है. निश्चित रूप से हम एक मजबूत विकल्प बनेंगे. बहुजन समाज पार्टी जब-जब मजबूत हुई है, तब-तब भाजपा कमजोर हुई है.’

कई विवादों से रहा है इमरान मसूद का नाता

बता दें कि इमरान मसूद (Imran Masood) इस साल के शुरू में हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस छोड़कर सपा में शामिल हुए थे. इस बीच, पार्टी में उचित सम्मान नहीं मिलने पर उनके द्वारा नाराजगी जाहिर करने की खबरें भी थीं. मसूद का कई विवादों से भी नाता रहा है और जेल भी जा चुके हैं. मार्च 2014 में प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के आरोप में मसूद को गिरफ्तार भी किया गया था.

‘अगर यूपी की परीक्षा धार्मिक आयोजन होती तो फूलों की बारिश होती

Read More…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *