Health

भारतीय नागरिकों के खिलाफ दर्ज FIRs होंगी रद्द? तबलीगी जमात केस पर HC की सुनवाई आज

  • April 4, 2022
  • 1 min read
  • 67 Views
[addtoany]
भारतीय नागरिकों के खिलाफ दर्ज FIRs होंगी रद्द? तबलीगी जमात केस पर HC की सुनवाई आज

Tablighi Jamaat gathering case : तबलीगी जमात (तब्लीगी जमात) के कार्यक्रम में शरीक हुए विदेशी लोगों की मेजबानी करने वाले भारतीय नागरिकों के खिलाफ दर्ज प्राथमिकियों को रद्द करने की अपील से संबंधित याचिकाओं पर आज यानी सोमवार को सुनवाई करेगा. जिन लोगों के खिलाफ प्राथमिकियां दर्ज की गईं, उनमें चांदनी महल थाना इलाके में अपने घरों में विदेशियों को शरण देने वाले लोग और इलाके में मौजूद मस्जिदों में विदेशी मेहमानों को ठहराने वाले मस्जिदों की समितियों के सदस्य व देखरेख करने वाले शामिल हैं.

आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज

नई दिल्ली: दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) मार्च 2020 में तबलीगी जमात (तब्लीगी जमात) के कार्यक्रम में शरीक हुए विदेशी लोगों की मेजबानी करने वाले भारतीय नागरिकों के खिलाफ दर्ज प्राथमिकियों को रद्द करने की अपील से संबंधित याचिकाओं पर आज यानी सोमवार को सुनवाई करेगा. जिन लोगों के खिलाफ प्राथमिकियां दर्ज की गईं, उनमें चांदनी महल थाना इलाके में अपने घरों में विदेशियों को शरण देने वाले लोग और इलाके में मौजूद मस्जिदों में विदेशी मेहमानों को ठहराने वाले मस्जिदों की समितियों के सदस्य व देखरेख करने वाले शामिल हैं.

इन याचिकाओं पर न्यायमूर्ति योगेश खन्ना सुनवाई करेंगे. दिल्ली पुलिस ने इस साल की शुरुआत में इन याचिकाओं का विरोध किया था. गौरतलब है कि मार्च 2020 में जब तब्लीगी जमात का कार्यक्रम आयोजित किया गया था, तब दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि देखी जा रही थी. उस दौरान जब कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोगों की कोविड-19 जांच की गई, तो उनमें से कई लोग संक्रमित पाए गए थे. इसके बाद कई लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

जिन लोगों के खिलाफ प्राथमिकियां दर्ज की गईं, उनमें चांदनी महल थाना इलाके में अपने घरों में विदेशियों को शरण देने वाले लोग और इलाके में मौजूद मस्जिदों में विदेशी मेहमानों को ठहराने वाले मस्जिदों की समितियों के सदस्य व देखरेख करने वाले शामिल हैं.

क्या है तबलीगी जमात

दरअसल, साल 2020 में बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमण केस आने के बाद निज़ामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात का मरकज चर्चा में आया था. इस तबलीगी जमात की शुरुआत 1926 में मेवात प्रांत से हुई थी. इसकी स्थापना मौलाना मुहम्मद इलियास ने की थी. इनका काम पूरी दुनिया में इस्लाम के प्रचार-प्रसार का काम करते हैं. तबलीगी जमात के निर्देश पर इससे जुड़े जमाती देश के अलग-अलग हिस्सों में जाकर इस्लाम की शिक्षाओं का ज्ञान और उसके अमल करने की गुजारिश करते हैं.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

ब्रेकिंग न्यूज़: क्या भारत पर कार्रवाई कर सकता है अमेरिका?

Raad More…

Leave a Reply

Your email address will not be published.